गाँधी जयंती पर निबंध - Gandhi Jayanti Eassy in Hindi (2018)

नमस्कार दोस्तों गाँधी जी के जीवान को समझने के लिए हम आपके साथ सरल और आसान भाषा में गाँधी जयंती पर निबंध - Gandhi Jayanti Eassy in Hindi share कर रहे है।  काल से लेकर आज तक हमारे देश में अनेक महान विभूतियों, युग-पुरुष, संत-महात्माओं, समाज-सुधारकों एव राष्ट्र-पुरुषो की लब्मी कहानी है। इन दिव्य आत्माओं ने न केवल भारत के जन-मानस को आंदोलित किया, अपितु समूची मानवता को सच्ची राह दिखाई। प्रत्येक भारतीय को ऐसी विभूतियों पर गर्व है। वर्तमान भारत के निर्माता महात्मा गाँधी एक ऐसी महान विभूति थे जिन्होंने सत्य एव अहिंसा का प्रयोग कर यह  सिद्ध कर दिया की आतिमक बल, शारीरिक बल से कही अधिक सेरेस्ट तथा शक्तिशाली है।
गाँधी जयंती पर निबंध - Gandhi Jayanti Eassy in Hindi 2018
गाँधी जयंती पर निबंध - Gandhi Jayanti Eassy in Hindi 2018 
गुजरात में पोरबंदर नमक नगर में 2 अक्टूबर, 1869 को गाँधी जी का जन्म हुआ। इनके पिता का नाम करमचंद गाँधी था जो राजकोट के दीवान तथा विष्णो-भक्त थे। इनकी माता पुतलीबाई अत्यंत धर्मनिष्ठ महिला थी। अत: गाँधी जी को बचपन में ही विष्णो-भक्त दीक्षा मिल गई थी। तेरह वर्ष की अल्पायु में ही इनका विवाह कस्तूरबा गाँधी से हो गया था। मैट्रिक की परीझा उत्तीर्ण करने के बाद इन्हे बैरिस्ट्री पढ़ने विलायत भेजा गया। गाँधी जी बैरिस्ट्री बनकर लौटे तथा 1893 में एक मुकदमे की पैरवी करने के लिए इन्हे दझिण अफ्रीका जाना पड़ा। वहाँ की गोरी सरकार द्वारा अफ्रीकियों तथा भारतीयो पर किए जा रहे दुव्यर्वहार एव अत्याचार को देखाकर इन्होंने संघर्ष करने की ठानी और इसमें इन्हे अभुत्वपूर्व सफलता भी मिली। अफ्रीका में इन्होंने अनेक यहनाए सही, पर अहिंसा के पुजारी गाँधी जी आठ वर्ष तक सत्याग्रह करते रहे। गाँधी जी ने हमें सत्य, अहिंसा, स्त्री-सिक्षा, स्वदेशी वस्तुओं के प्रति प्रेम, अछूतो के उदधार, खादी के प्रति प्रेम, हिंदू-मुस्लिम एकता, आदि का संदेश दिया। गाँधी जी के आदर्श आज भी हमारा पथ-प्रदर्शन करते है। 30 जनवरी को प्रति वर्ष 'शहीद दिवस' के रूप में गाँधी जी के बलिदान का स्मरण किया जाता है। हमारा कर्तव्ये है की हम उनके बताये मार्ग पर चलकर उन्हें सच्ची सरधांजलि अर्पित करें। आज चारों ओर जिस प्रकार सांप्रदायिकता तथा भरस्टचार का बोलबाल है, उसमे गाँधी जी के आदर्श ही हमें सही दिशा की ओर प्रेरित कर सकते हैं। 

उम्मीद करते है आपको गाँधी जयंती पर निबंध - Gandhi Jayanti Eassy in Hindi पसंद आया होगा अगर पसंद तो अपने दोस्तों के पास इस आर्टिकल को जरूर share करे।

Post a Comment

0 Comments